जीवन शतरंज के खेल की तरह है और यह खेल आप... - HindiJokes.Mobi
Himaŋshʋ Gʋpta: 2 years ago
जीवन शतरंज के खेल की तरह है और यह खेल आप ईश्वर के साथ खेल रहे है..!
आपकी हर चाल के बाद,
अगली चाल वो चलता है..
आपकी चाल आपकी "पसंद" कहलाती है,
और,
उसकी चाल "परिणाम" कहलाती है।