Inspirational sms - HindiJokes.Mobi
Himaŋshʋ Gʋpta Modi Fied: 1 year ago
मदद करना सीखिये
फायदे के बगैर

मिलना जुलना सीखिये
मतलब के बगैर

जिन्दगी जीना सीखिये
दिखावे के बगैर

और

मुस्कुराना सीखिये
सेल्फी के बगैर!
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 2 years ago

शादी के वक़्त समझौता दोनों करते है।

स्त्री..
माँ बाप व मायका छोड़ देती हैं…

और पुरुष…
सुख-शांति व अच्छे दिनों की उम्मीद।
Ür's Himaŋshʋ Gʋpta: 2 years ago
यदि आपको गर्दन नीची कर खाने को कहा जाय और हर रोज अलग-अलग महिलाऐ बिना बोले आपको खाना परोसे..

अब आपको ये पता लगाना हे कि
आपकी माताजी ने किस दिन खाना परोसा तो आपके पास पहचानने का क्या आधार होगा ..?

Ans-
मैं हर एक से हर दिन आधी रोटी मांगूगा,
जिस दिन आधी रोटी मांगने पर भी पूरी रोटी थाली में आ जाए तो समझ लूंगा आज मां ने ही परोसा है..।”
#माँ_माँ_होती_है
Himaŋshʋ Gʋpta: 2 years ago
कितना ही सुलझ जायें,,अपने से हम ...
ये जिंदगी अपनी बातों में हमें,,कभी-कभी उलझा ही लेती है
Himaŋshʋ Gʋpta: 2 years ago
रावण की 20 आँखें थी पर नज़र सिर्फ एक औरत पे, जबकि आपकी 2 आँखें और नज़र हर औरत पे,
तो असली रावण कौन?